उत्तर प्रदेश

BSP supremo Mayawati in Azamgarh : बसपा नेत्री का दावा, मुख्यमंत्री योगी अब मठ वापस जाएंगे, बीएसपी ही नंबर वन रहेगी

BSP supremo Mayawati in Azamgarh : पूर्व प्रधानमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को आजमगढ़ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी समेत विपक्ष की खिंचाई की. कहा बसपा नहीं, समाजवादी पार्टी बीजेपी की बी-टीम है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो सपा में लोग यह नहीं कहते कि बसपा को हराना है, जहां हमारे उम्मीदवार कमजोर हैं, किसी और को वोट दें क्योंकि बसपा नहीं जीतती है।

मायावती ने आगे कहा कि अखिलेश यादव आजमगढ़ से सांसद हैं, जो हमारी जगह बने हैं. इसलिए इस बार जब हमें हमारा समर्थन नहीं मिला तो वह अपने पिता के संसदीय क्षेत्र करहल से चुनाव लड़ने गए. समेंदा में हुई मंडल स्तरीय चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बसपा प्रमुख ने भाजपा, सपा और कांग्रेस को संबोधित किया.

एक्टिस की सभी जांचों को विफल कर सत्ता में आई बसपा : मायावती

मायावती सुबह 11 बजे अपने निर्धारित समय से साढ़े तीन घंटे की देरी से जनसभा स्थल पहुंचीं. मायावती जैसे ही मंच पर पहुंचीं तो दर्शक भी उन्हें देखने के लिए टूट पड़े. अध्यक्ष एवं संभाग समन्वयक ने पार्टी का चुनाव चिन्ह भेंट कर उनका स्वागत किया। मायावती ने कहा कि सभी दलों का कहना है कि बसपा चुनाव में गायब है। एग्जिट ओपिनियन पोल भी बसपा के सत्ता से दूर होने की बात कहते हैं। 2007 में भी यही हुआ था। लेकिन बसपा पूर्ण बहुमत से सत्ता में आई और एक्टिस की सभी जांचों को विफल कर दिया। ऐसा ही इस बार भी होगा।

उन्होंने कहा कि हमने अपना चुनावी घोषणापत्र जारी नहीं किया है क्योंकि हम घोषणा करने के बजाय काम करने में विश्वास करते हैं। सत्ता में आने के बाद राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था को दुरुस्त किया जाएगा. माफिया की जेल में होंगे बूढ़े, बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा। भीड़ को इकट्ठा होते देखा तो मायावती को बहुत चक्कर आया और आधे घंटे के भाषण के बाद उन्होंने सपा, भाजपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला.

जनसभा को लेकर मायावती ने कहा कि आजमगढ़ संभाग की 21 सीटें ही नहीं, बल्कि पूरे पूर्वांचल में बसपा नंबर वन रहेगी. यहां जुटी भीड़ ने इसकी पुष्टि की है. राज्य में बसपा की आंधी चल रही है और 10 मार्च के बाद राज्य में बसपा की सरकार बनेगी. आज जब हम यहां पर उमड़ी भीड़ को देखते हैं तो सभी पार्टियों की नींद उड़ जाती है.

कांग्रेस के यूपी नेता केवल तस्वीरें लेते हैं: मायावती

साथ ही उन्होंने कांग्रेस को यह भी संबोधित किया कि दलित उत्पीड़न के मामले में खुद को मसीहा बताने वाली कांग्रेस के लिए जिम्मेदार यूपी सिर्फ तस्वीरें लेता है. उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, ठीक उसी तरह जैसे वह खुद बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। दलितों पर हो रहे अत्याचारों के मामले में सोनिया गांधी कहीं नहीं जाती, लेकिन ज्यादा लोग जाते हैं, उसी तरह बसपा में भी यूपी में ऐसे मामले में जगह-जगह जाने वाले सभी जिम्मेदार लोगों को तैयार किया गया है.

मायावती सा- बसपा काम करने में विश्वास रखती है

साथ ही उन्होंने कहा कि कर्मचारी हर दिन हड़ताल पर हैं, इस बार अगर वह सत्ता में आती हैं तो एक आयोग बनाकर पुरानी पेंशन को लागू करेंगी. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बसपा और विपक्षी दलों की तरह हवा भी एयरलाइन घोषणापत्र जारी नहीं करती है, बल्कि बातें करने में विश्वास रखती है, बातें कहने में नहीं. उन्होंने कहा कि विपक्षी दल बसपा का नाम बदलकर विकास कार्यों पर जोर देते हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि अगर वह सत्ता में आते हैं तो अराजक तत्वों को जेल में रखेंगे और कानून-व्यवस्था पिछली सरकार की तरह मजबूत रहेगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button