उत्तर प्रदेश

Jhansi: 10 दिन से गायब है चिरगांव अस्पताल का अधीक्षक, वेतन न मिलने से कर्मचारी परेशान

चिरगांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निदेशक सीएम सर दस दिन से लापता हैं. इसकी जानकारी जिले से लेकर मुख्यालय तक है, लेकिन अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कर्मचारियों को वेतन नहीं मिलने से लोग आक्रोशित हैं. महंगाई के चलते मजदूर भुखमरी की हद तक पहुंच गए हैं। इसके साथ ही योगी सरकार द्वारा चलाई जा रही स्वास्थ्य व्यवस्थाएं पूरी तरह से चरमरा गई हैं।

वेतन नहीं मिलने से कर्मचारी परेशान

स्वास्थ्य केंद्र के स्टाफ ने बताया कि प्रबंधक 10 दिन से चिरगांव अस्पताल नहीं गया था. इससे कर्मचारियों को अब तक मार्च माह का वेतन नहीं मिल सका है, भुगतान न होने से कर्मचारी परेशान हैं। उनका कहना है कि बच्चों को अंदर जाने देना चाहिए। किताबें, यूनिफॉर्म खरीदनी होगी, लेकिन पैसे के अभाव में कुछ नहीं कर पा रहे हैं। इधर, जननी सुरक्षा योजना में आशा की फीस और महिलाओं को प्रसव के पैसे नहीं मिले हैं. इसके साथ ही जनता के लिए चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन ठीक से नहीं किया जाता है, हर बार जब कर्मचारियों से इस बारे में पूछा जाता है तो वे कहते हैं कि उन्हें पता नहीं है कि वे कहां हैं और न ही उनका फोन आता है और न ही कोई सूचना प्राप्त होती है.

सीएमओ ने कर्मचारियों को दी सूचना

हालांकि कर्मचारियों ने इसकी जानकारी सीएमओ को दी है। बताया जा रहा है कि उक्त अभिभावक बिना सूचना के स्वास्थ्य केंद्र से लापता है. यह गायब क्यों है? इसको लेकर एक सवाल खड़ा हो गया है। सूत्र बताते हैं कि योगी सरकार द्वारा चलाई जा रही स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाओं को वहां दबा दिया गया है. इससे गरीब लोगों को उचित स्वास्थ्य लाभ नहीं मिल पाता है। इसकी जानकारी जिला व संभाग मुख्यालय के अधिकारियों को है, लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा है।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button