उत्तर प्रदेश

Kaushambi: मिट्टी का टीला ढहने से मचा हड़कंप, दबे मजदूरों को निकालने में एक की मौत, दूसरा है घायल

जिले के कोखराज थाना क्षेत्र के मूरतगंज थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर बाजाहा गांव में जब मिट्टी की खुदाई की गई तो मिट्टी का एक टीला ढह गया, जिसमें दो मजदूर दब गए. इस हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि एक अन्य मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गया। जानकारी के अनुसार कोखराज थाना क्षेत्र के गांव बाजाहा में टीले में जेसीबी मशीन से दुर्घटना के समय खुदाई हो रही थी.

जेसीबी मशीन से खुदाई करने के बाद कुछ मजदूर ट्रैक्टर के ट्रेलर में मिट्टी भरने गए। जेसीबी मशीन से मिट्टी खोदते समय टीला ढह गया, जिससे मूरत पुत्र बच्चा लाल-बो उजिहानी और राजू कार्यकर्ता को दफना दिया गया। ग्रामीणों ने मलबे में दबे मजदूरों को सुरक्षित निकाल लिया है। इस हादसे में मजदूर मूरत के बेटे बच्चा लाल की मौत हो गई, जबकि एक अन्य मजदूर राजू गंभीर रूप से घायल हो गया. घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. घायल अवस्था में राजू को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है।

खनन माफिया कई वर्षों से अवैध खुदाई को बेखौफ बना रहे हैं

राज्य की जमीन पर अवैध रूप से खुदाई चैल तहसील के क्षेत्र में बाजाहा व आसपास के सभी गांवों में सरकारी जमीन, टीला भीटा आदि जगहों पर भू माफिया कई वर्षों से निडर तरीके से अवैध उत्खनन कर रहे हैं. तहसील प्रशासन और पुलिस से कई बार शिकायत करने के बाद भी मिट्टी खनन माफिया का अवैध खनन बंद नहीं हुआ है. प्रशासन की लापरवाही से 2 मजदूर जमीन के कूड़ेदान में दब गये, जिसमें एक मजदूर की मौत हो गयी, दूसरा मजदूर जिंदगी की जंग लड़ रहा है. आखिर कब तक माफिया और तहसील या फिर अवैध खनन में लिप्त पुलिस के बीच की कड़ी के खिलाफ आला अधिकारी कार्रवाई करेंगे?

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button