उत्तर प्रदेश

Jhansi: पुलिस को मिली कामयाबी, 410 लीटर कच्ची शराब जब्त और 4400 किलोग्राम लहन की नष्ट

जिला न्यायाधीश रवींद्र कुमार के नेतृत्व में 2022 के महासभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए शांतिपूर्ण अभियान के तहत आबकारी विभाग, प्रशासन और पुलिस की संयुक्त टीम क्षेत्र में ऐसे स्थानों पर लगातार काम करती है. जहां अवैध स्पिरिट का उत्पादन होता है या अवैध स्पिरिट का भंडारण होता है, वहां निरंतर अभियान चलाकर किए गए उपायों की निरंतरता बनाए रखें।

अवैध कारोबार पर सख्ती से लगे रोक: डीएम

जिला आयुक्त ने आदेश दिया कि पुलिस और कर प्राधिकरण अपने संपर्क के स्रोतों में सुधार करते हुए मुखबिरों की मदद से अवैध शराब उद्योग से जुड़े अधिक से अधिक लोगों के खिलाफ कार्रवाई करें. उन्होंने कहा कि मतगणना के दौरान किसी भी हाल में अवैध शराब के वितरण एवं परिवहन के लिए सख्त कदम उठाकर अवैध कारोबार पर सख्ती से रोक लगाई जाए. उन्होंने कहा कि फील्ड विजिट के दौरान जहां कहीं भी कच्ची शराब का भण्डार मिलता है उसे मौके पर ही नष्ट कर देना चाहिए.

अवैध शराब के मामले में 5 मामले दर्ज

जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला न्यायाधीश रवींद्र कुमार के आदेश से विक्की को 2 दिन के भीतर अवैध शराब उत्पादन के संबंध में जिला प्रशासन और पुलिस विभाग और आबकारी विभाग को विक्की, काबुला डेरा गोरामाचिया टकोरी लक्ष्मणपुरा, कंगना अशोकनगर पहेली 4 किलो लहन के संबंध में किया गया था. नष्ट कर दिया गया और 5 मामले दर्ज किए गए। इसके अलावा जिला प्रशासन, पुलिस व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने जिले के औद्योगिक क्षेत्र में बंद पड़ी औद्योगिक इकाइयों की भी गहनता से जांच की.

डीएम ने अवैध शराब के उत्पादन के ठिकानों को नष्ट करने के दिए निर्देश

जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने कहा कि पर्यवेक्षकों को लगातार उस क्षेत्र का दौरा करना चाहिए और उन जगहों का दौरा करना चाहिए जहां अवैध आत्माओं का उत्पादन होने या भंडारण होने की संभावना है. इन जगहों पर जबरदस्ती लूटपाट करते हुए सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि ऐसी अवैध आत्माओं के उत्पादन के ठिकानों को नष्ट किया जाना चाहिए।

होटलों और ढाबों की भी हो जांच: जिलाधिकारी

जिला जज ने निर्देश देते हुए कहा कि मतगणना के दौरान राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित होटलों और ढाबों पर भी लगातार नजर रखी जाए ताकि अवैध शराब की दुकानों को रोका जा सके. उस समय कर निरीक्षक राम आधार पाल, शिशुपाल सिंह, राम प्रकाश, कर निरीक्षक सुश्री नीलम सिंह सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button