उत्तर प्रदेश

Unnao News: घायलों को लेने पहुंचे एंबुलेंस चालक को बाइक ने मारी टक्कर, हादसे में दो की मौत

बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र के गौरिया गांव आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे के पास सोमवार सुबह लोडर पलटने से घायलों को लेने पहुंचे एंबुलेंस चालक की साइकिल सवारों की चपेट में आने से मौत हो गयी. हादसे के बाद लोडर व साइकिल सवारों को स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया. वहां साइकिल चला रहे एक युवक की मौत हो गई। हादसे के बाद पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी दी और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

कानपुर थाना रसूलाबाद के गांव कजरी निवासी विवेक ने अपने साथी साजन कुमार के साथ अमरूद को लोडर में लादकर राजस्थान से लखनऊ का सफर तय किया. बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर गांव गौरिया के पास लोडर अनियंत्रित होकर पलट जाने से विवेक व साजन घायल हो गए. शाहजामपुर जलालाबाद थाने के 137 नयागांव निवासी एंबुलेंस चालक पुष्पेंद्र घायलों को निकालने के लिए घायलों को पहुंचा. तभी दिल्ली के थाना हर्षनगर के प्रतापनगर में रहने वाले सुशील कुमार व रविंद्र पुत्र शेर सिंह ने घायलों को ले जाते समय तेज रफ्तार साइकिल पर सवार एंबुलेंस चालक पुष्पेंद्र को टक्कर मार दी.

हादसे में एंबुलेंस चालक पुष्पेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक एंबुलेंस कर्मी पुष्पेंद्र फतेहपुर चौरासी का तकिया एरिया 108 ड्राइवर का काम करता है। जबकि दोनों साइकिल सवार घायल हो गए। जानकारी के लिए यूपीडीए व पुलिस ने पहुंचकर घायलों को स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। वहां डॉक्टर ने घायल साइकिल सवार सुशील कुमार को भी मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कवायद शुरू कर दी है।

अमरूद लेटने से साइकिल सवार फिसल गया

लोडर पलटने के बाद सारा गावर जगह-जगह सड़क पर बिखरा पड़ा था। लेकिन हाईवे स्टाफ की ओर से सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए। जिससे एक साधारण सी घटना एक बड़े हादसे में बदल गई। लोगों का कहना है कि दोनों साइकिल सवार दिल्ली से फैजाबाद जा रहे थे। जब उन्होंने मौके पर ब्रेक लगाया तो उनकी तेज रफ्तार बाइक एंबुलेंस स्टाफ से टकरा गई जो मौके पर अमरूद होने के कारण फिसल गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button