UP Election 2022: PM मोदी से हिसाब चुकाने आज काशी पहुंचेंगी ममता, अखिलेश व जयंत के साथ कल करेंगी बड़ी रैली

उत्तर प्रदेश विधानसभा (यूपी चुनाव 2022) के सातवें चरण के चुनाव में पश्चिम बंगाल की प्रधानमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की ममता बनर्जी भी हिस्सा लेंगी. राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान ममता एक बार राजधानी लखनऊ पहुंच चुकी हैं, लेकिन उन्होंने अभी तक कोई जनसभा नहीं की है. राज्य चुनाव के दौरान ममता की एकमात्र जनसभा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में होगी. इस जनसभा में समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोक दल के नेता चौधरी जयंत सिंह भी बोलेंगे.

पश्चिम बंगाल में उपचुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने आक्रामक प्रचार किया. दोनों नेताओं ने प्रधानमंत्री ममता बनर्जी पर जोरदार हमला बोला था. माना जा रहा है कि ममता बनर्जी पीएम मोदी से हिसाब चुकता करने काशी पहुंचेंगी. ममता और अखिलेश की चुनावी सभा को सफल बनाने के लिए सपा और रालोद ने पूरी ताकत झोंक दी है.

गंगा आरती में भी शामिल होंगी ममता

कार्यक्रम के मुताबिक शाम को प्रधानमंत्री ममता बनर्जी बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगी. काशी पहुंचने के बाद ममता पहले गंगा पूजन करेंगी और उसके बाद विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती में भी शामिल होंगी. इस दौरान वह बाबा विश्वनाथ के दर्शन करने भी जा सकती हैं। 3 मार्च को ऐडे में ममता बनर्जी की चुनावी जनसभा का आयोजन किया गया है. ममता की चुनावी रैली पर सभी की निगाहें टिकी हैं क्योंकि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और रालोद अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह भी शामिल होंगे.

तीन प्रमुख नेताओं की संयुक्त बैठक को सफल बनाने के लिए सपा और रालोद दोनों पार्टियों ने पूरी कोशिश की है. पश्चिमी यूपी से रालोद के कई पदाधिकारी भी रैली की तैयारियों के सिलसिले में वाराणसी पहुंच चुके हैं. वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी ने भी इस रैली को सफल बनाने में अपनी पूरी ताकत लगा दी है. रैली की तैयारी में सपा के उपाध्यक्ष किरणमय नंदा और समाजवादी युवजन सभा के नेता भी जुटे हुए हैं.

पीएम मोदी के गढ़ में सेंध लगाने की तैयारी

छठे चरण के चुनाव का शोर थमने के बाद अब पूर्वांचल सभी राजनीतिक दलों के लिए एक प्रमुख राजनीतिक अखाड़ा बन गया है. सभी पार्टियां वाराणसी और आसपास के नौ जिलों में सीटें जीतने के लिए पुरजोर कोशिश कर रही हैं. 2017 के चुनाव में बीजेपी गठबंधन ने वाराणसी की सभी आठ सीटों पर जीत हासिल की थी. प्रधानमंत्री मोदी का गढ़ माने जाने वाले इस इलाके में इस बार समाजवादी पार्टी ने सेंध लगाने की पूरी तैयारी कर ली है. कांग्रेस प्रत्याशी भी कई जगह पूरा जोर लगाते हैं।

वाराणसी में चुनाव परिणाम एक बड़ा राजनीतिक संदेश देगा और यही वजह है कि विपक्ष यहां पूरी ताकत से काम कर रहा है. इस सिलसिले में पश्चिम बंगाल की प्रधानमंत्री ममता बनर्जी भी काशी पहुंच रही हैं. जानकारों का मानना ​​है कि ममता इस चुनावी सभा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी पर बड़ा हमला करेंगी.

बेहद अहम माना जा रहा है ममता का दौरा

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान ममता एक बार राजधानी लखनऊ पहुंच चुकी हैं. इस दौरान उन्होंने समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव से मीडिया से बातचीत की. लखनऊ की अपनी यात्रा के दौरान ममता ने एक चुनावी रैली में बात नहीं की, लेकिन वह अंतिम चरण के वोट के लिए पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में टैप करने वाली हैं। ममता का काशी दौरा राजनीतिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि इस दौरान वह चुनावी रैली कर प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी के खिलाफ लड़ाई का ऐलान करेंगी.

प्रधानमंत्री मोदी भी 4 मार्च को काशी में डेरा डालेंगे और माना जा रहा है कि इस दौरान वे ममता के हमलों का जवाब दे सकते हैं. अब यह देखना होगा कि ममता के इस दौरे से समाजवादी पार्टी गठबंधन को कितना राजनीतिक फायदा मिलता है.

Leave a Reply